Wednesday, 19 April 2017

किसी दर्द या ख़ुशी का एहसास नहीं है


No comments:

Post a Comment