Friday, 23 June 2017

रोते थे जब बैठ तनहा तो कोई पास नहीं आया


No comments:

Post a Comment