Friday, 11 May 2018

तेरे हर ग़म को अपनी रूह में उतार लूँ


No comments:

Post a Comment