Hindi Shayari 2016


  • दर्द दिए कुछ ज़माने ने हर लम्हा कुछ यूँ बीत गया
  • इसी तरह हुई शुरआत कुछ मैं शायरी करना सीख गया
  • बढ़ा कुछ आगे तब झूठे दोस्तों में समय बीत गया
  • कुछ ऐसे ही हुई शुरुआत यारों मैं शायरी करना सीख गया
  • फिर कुछ झूठे रिश्तो में मेरे भोलेपन को वो जीत गया
  • बढ़ा दर्द कुछ इस कदर कि मैं शायरी करना सीख गया
  • रूह मेरी गम में डूबी थी अब हर लम्हा हंसी का बीत गया
  • इस तरह मैं दर्द-ए-दिल शायरी करना सीख गया
  • कुछ नामुराद दिल भी ऐसी जगह लगा जो मेरे दिल को भी साथ ले गयी
  • बस इस टूटे हुए बेख़ौफ़ शायर को कुछ प्यार का दर्द दे गयी
  • आज जब सभी हमें शायर शायर कहते हैं
  • वो कहते हैं कि हम और हमारी शायरी उनके दिल में रहते हैं
  • अरे हम तो बस शायर हैं महखानों में रहते हैं
  • आलम कुछ ऐसा है की कलम से कागज़ पर दर्द बयान कर दें तो लोग शायर श्यार कहते हैं
  • हम तो आज भी एक रूह हैं बस
  • जो उनके दिल में रहते हैं…
  • उनके दिल में रहते हैं….

  • =======================================


  • रोने दे कुछ पल मुझको
  • ये आंसू अच्छे लगते हैँ
  • कभी कभी ये गम के बादल भी
  • कुछ अपने लगते हैं
  • हँसना मेरा सबने देखा
  • जो मेरी पहचान है
  • पर छुप छुप के हूँ कितना रोया
  • इस बात से सब अनजान हैं
  • रात की छाया ले आई जब तन्हाई
  • उदासी सी कुछ उमड़ आई
  • सहसा ढलका आँख का पानी
  • आंसू बन के बहता गया
  • कोई न यहाँ जग है तन्हा
  • हैं बस मैं और मेरी तन्हाईयाँ
  • साथ मेरा देते हैं आंसू
  • छाईं हैं वीरानियाँ
  • =======================================

  • तेरी निगाहें,
  • तेरी अदाएं
  • तेरी पनाहें,
  • उफ़ ये फिज़ाएँ
  • आशिक़ बनाएं
  • जीना सिखाएं
  • तुझको ही देखें
  • तुझको ही चाहें
  • तुझको ही पूजें
  • तुझको ही पाएं
  • ये तेरा चितवन
  • हो जैसे चन्दन
  • प्रेम का बंधन
  • दिल की ये धड़कन
  • बढ़ती ही जाये
  • तुझको बुलाये
  • जब तू मिलेगी
  • ज़िन्दगी खिलेगी
  • मेरी हमसफ़र
  • क्या तू बनेगी?

  • =======================================

  • तेरी आँखों की मस्ती
  • तेरी शोख अदा
  • तेरी मीठी बातें
  • ये हंसी मुलाकातें
  • यूं ही चलती रहे
  • हम मिलते रहे
  • तू है कितनी भोली
  • तू है इतनी प्यारी
  • तू ही बता दे
  • तुझे कैसे न चाहें
  • मेरे अंदर भी  तू
  • मेरे बहार भी तू
  • मेरी सांसें
  • मेरी राहें
  • सब में बसी तू
  • तू ही मेरी पूजा
  • तू ही मेरी सेवा
  • तुझे चाहने की अलावा
  • न जानू काम दूजा
  • तू ही मेरा मंदिर
  • तू ही मेरी मूरत
  • तू ही है जाना
  • बस मेरी ज़रूरत
  • तुझको पुकारूँ
  • तुझको निहारूं
  • तुझको ही चाहूँ
  • तुझको ही पा लूँ
  • यही है चाहत
  • बस एक बार
  • बस एक बार

  • =======================================

  • काश एक पल दिया होता जो
  • तुमने मुझे
  • तो मैं कह पाता वो बातें
  • जिन्हें मैंने समझने में देर की थी

  • काश एक पल दिया होता जो
  • तुमने उन बातों को
  • जो मेरे अधरों तक न आ पायी
  • उन रुस्वा हुए बेरुखे से प्यार में

  • काश एक पल दिया होता जो
  • तुमने खुद को
  • तो समझ पाती मेरे दिल में क्या था
  • जो अनसुना रह गया था हमारे बीच में

  • काश एक पल दिया होता जो
  • तुमने उस वक़्त को
  • तो ये बदल पता उन हालात को
  • जो लिए बैठे थे उदासी हमारे रिश्ते में

  • काश एक पल दिया होता जो
  • तुमने मेरे उन अधूरे ख्वाबों को
  • जो सिर्फ हसरतें बन के रह गए दिल में

  • तन्हाई तो उधर भी होगी मैं जनता हूँ
  • बस उसी पल की तो कमी रह गयी थी
  • हमारे उन खूबसूरत जज़्बातों में

  • काश एक पल दिया होता जो
  • तुमने काश एक पल..
  • बस एक पल की बात थी..
  • =======================================


  • मुझसे दूर है तू पर तेरी याद साथ है
  • कुछ कही कुछ अनकही बातें आज भी मुझे याद है
  • कुछ इस कदर दूर चले गए हो तुम
  • जैसे कुम्भ के मेले में हो गए हो गुम
  • मेरी कोशिश तुझे पाने की है और वही पहले भी थी
  • मैं आज भी वहीँ खड़ा हूँ जहाँ तू छोड़ गयी थी
  • वक्त बीत रहा है हर लम्हा हर पल
  • आज भी दर्द है वहाँ जहाँ तूने अँखियों से किया था घायल
  • आज भी तेरे घर के सामने से गुज़रते हुए तेरे दीदार को तरसता रहता हूँ
  • पर अब वहां नहीं रहती तू मैं पागल ये भी भूल बैठा हूँ
  • जहां भी है तू खुश रहे तेरा अच्छे से दिल लगे
  • हम मर भी जाएँ तो भगवान करे तुझे खबर भी न लगे
  • तेरे दिखाए हुए सपनो को मैं आज भी अकेले जी लेता हूँ
  • तेरे दिए हुए ज़ख्मों को कुरेद के फिर से सी लेता हूँ
  • कभी न कभी तो तुम मुझे याद करोगे
  • हमसे मिलना है ये तुम खुद से बात करोगे
  • तुम जब कभी मुझसे मिलने आओगे
  • तब तुम हमको शायद वहाँ नहीं पाओगे
  • तब तुम लोगों से पूछोगे यहां अन्नू रहता था
  • वो कहेंगे वही जो सारा दिन उस सामने वाले घर की तरफ देखता रहता था
  • तब तुम्हें भी होश आएगा की अब वो दुनिया से चला गया
  • आजतक जो आँखें कभी नम ना हुई थी उनमें से पानी बहता गया
  • तब तुम्हें पता लगेगा की उसने इंतज़ार तो बहुत किया
  • पर वो भी तो इंसान है जो तेरी याद में ही जिया और तेरी याद में ही मर गया


  • =======================================
  • दिल ने कहा सुबह सुबह
  • तू कहाँ
  • खोजूं कहाँ मैं बता
  • तेरे निशाँ
  • दिल की हुकूमत तू
  • दिल की  ज़रूरत तू
  • तू कहाँ
  • वो लम्हे जो साथ बीते
  • वो यादें जो दिल में सीचे
  • वो बातें वो वादे
  • ढूंढें तुझे यहाँ
  • तू कहाँ

  • =======================================

  • चांदनी रात भी जल जाये जब तू काजल लगा के आये

  • ये दिल भी मेरा हलचल मचाये जब तू काजल लगा के आये

  • होंठों पे हँसी बार बार आये जब तू काजल लगा के आये

  • परवाना शमा को भूल जाये जब तू काजल लगा के आये

  • मेरा दिल भी गीत कोई गाये जब तू काजल लगा के आये

  • नजरें कटीली खंजर चलाये जब तू काजल लगा के आये

  • दिल पे मेरे घाव बनाये जब तू काजल लगा के आये

  • आँखों ने ये क्या कर डाला कैसे तुमको हम बताय जब तू काजल लगा के आये

  • जादू नजरें रहीँ चलाये जब तू काजल लगा के आये

  • प्यार की इंतहा शोर मचाये जब तू काजल लगा के आये

  • दिल पल पल कहता मुझसे आँखे तुमको देखी जाएं जब तू काजल लगा के आये

  • बस बहुत कह दिया अब नही कहना ओ मृगनयनी सी आँखों वाली

  • मेरी आँखों में बस जाये जब तू काजल लगा के आये।

  • =======================================

  • मैं और मेरी तन्हाई बैठे थे आज…
  • और हो रही थी मेरे प्यार की बात…
  • तन्हाई ने कहा कैसा प्यार है तेरा…
  • जो आज तक है उसने मुंह फेरा…
  • मैं था चुप और इस से तन्हाई थी हैरान…
  • मैं था शांत और इस से तन्हाई थी परेशान…
  • तन्हाई ने कहा क्या मिला तुझे प्यार में…
  • इस से अच्छा बैठा होता कही ऐशो बहारो में…
  • तन्हाई बोली क्या है अब पास में तेरे…
  • छा गए हैं बादल और गमों के अँधेरे…
  • मैं था चुप और इस से तन्हाई थी हैरान…
  • मैं था शांत और इस से तन्हाई थी परेशान…
  • तन्हाई ने कहा की प्यार में बहुत फरेब है धोखा है…
  • जा कुछ और कर प्यार के अलावा तुझे क्या किसी ने रोका है…
  • तन्हाई ने कहा क्या है ये प्यार का अजूबा…
  • जा, यार के वापिस आने की उम्मीद में मत रह डूबा…
  • मैं था चुप और इस से तन्हाई थी हैरान…
  • मैं था शांत और इस से तन्हाई थी परेशान…
  • तन्हाई ने कहा तेरा बिछड़ा यार नहीं आएगा…
  • मुझे लगता है तू कभी अपना प्यार नहीं पायेगा…
  • तन्हाई बोली अरे मूर्ख कुछ तो बोल…
  • मई इतनी देर से बक बक कर रही हूँ तू भी तो अपना मुंह खोल…
  • मैंने कहा बता कहाँ लिखा है की वो नहीं आएगी…
  • और अपने साथ प्यार की सौगात नहीं लाएगी…
  • कौन सी ऐसी दिवार है हमारे बीच जो खड़ी हो सकें…
  • ऐसी कोई दिवार नहीं बनी जिसकी नीव डलते ही हम उसे तोड़ न सकें…
  • कौन कहता है की उसका प्यार हो गया है पूरा…
  • क्यूंकि “प्यार” तो खुद शब्द ही ऐसा है जिसका पहला अक्षर है अधूरा…
  • कौन कहता है की प्यार सिर्फ दो जिस्मो का मिलान है…
  • माना वो मुझसे दूर है पर फिर भी मैं उसका और वो मेरी हमदम है…
  • अब बोल रहा था मई और चुप थी तन्हाई….
  • तभी सामने आई मेरी जान और भाग गयी तन्हाई…

  • =======================================

  • तेरे दीदार नु तरसन मांही वे अखां मेरी…
  • तेरी याद विच न कटदियां एह रातां मेरी…
  • वे कमलिये कुछ तां खबर मेरी तू लै लै आ के…
  • देख राँझा तेरा हुन किवें तरसे ते अखियाँ चौ मींह बरसावे…
  • उस्दी याद विच मैं आज वी मुड़ मुड़ पीछे वेखां…
  • पर लभदा नहीं मैनु हुन ग्वाच्या यार वे रब्बा…
  • हुन तां रब्बा मैनु मेरी हीर मिला दे…
  • थक गईयाँ ने अखियाँ वी हुन अथ्रूआ दा मींह वरसा के…
  • हुन मुक चल्या वे अखां दा पानी वी सजना…
  • लभदा नी मैनु हुन कोई राह वी सजना…
  • बस इक वार आ के मेरा हाल तू पुछला…
  • देख मेरियां अखां नू तू भूल जावेंगी मुड़ना…
  • तू होनी हस्दी बैठ हुन पेकयां कोले…
  • ते इथे मैं हुन चंद्रा तेरी उडीक च तरसां…
  • हुन आ जा मांही दीद तेरी ने बहुत सताया…
  • थक गया हुन मैं रब तोँ वी मंग मंग दुआवां…
  • आजा कोल मेरे ते नाल मेरे तू लै लै लांवा…
  • या फेर कह दे भुल जा मैनू रान्झेया हुन मैं मुड़ नहीं आणा…

  • =======================================

  • आशिक़ हूँ मैं तेरा
  • आशिक़ी मेरा काम है
  • दीवाना हूँ तेरा
  • पर तू अनजान है
  • हर पल मैं दिल से
  • तुझको पुकारूँ
  • छिप छिप के चुपके से
  • तुझको निहारूं
  • तू पूजा
  • तू दर्पण
  • तू मंज़िल
  • तू साहिल
  • तू कोमल
  • तू खुशबू
  • तू चम चम
  • तू जादू
  • है तुझको ही चाहा
  • है तुझको ही पाना
  • कल आज और कल
  • मैं तेरा दीवाना

  • =======================================

  • आज का दिन बहुत खास है 
  • आज मेरे प्यार का जन्मदिवस है
  • वो है कितनी सुन्दर
  • वो है कितना प्यारी
  • मीठी उसकी बातें
  • सूरत है भोरी भारी
  • करता हूँ खुदा से बस यही दुआ
  • उसकी झोली में भर दे सिर्फ खुशियां
  • वो हमेशा मुस्कुराये
  • खुशियां मनाये
  • कभी मुझसे रूठे
  • फिर खुद मान जाये
  • जन्मदिन उसका हर साल आये
  • और मेरे संग वो यूं ही मनाये

  • =======================================
  • वो आँखें 
  • वो बातें
  • वो यादें
  • वो रातें
  • वो काले बाल
  • वो मस्त चाल
  • मेरे दिल का हाल
  • करें बेहाल
  • उसको सोचूँ
  • उसको चाहूँ
  • उसको सराहूं
  • उसको पूजूं
  • वो मेरी इबादत
  • वो मेरी राहत
  • वो मेरी किस्मत
  • वो मेरी चाहत
  • वो मेरा खुदा
  • वो मेरा जहां
  • उसको ढूँढूँ
  • मैं कहाँ कहाँ
  • ऐ मेरे खुदा
  • उस से मिलादे
  • बस एक बार
  • बस एक बार

  • =======================================

  • जब बरसात आयी थी मेरे दर पे
  • मैं प्यासा था !!

  • आंधी आकर गुजर गयी
  • मैं ठहरा था
  • जिसने नींदे चुराई मेरी
  • वो एक हसीन चेहरा था !

  • रोजदराज की कश्मकश से
  • मैं वाक़िफ़ था
  • प्यार मैं डूबा था
  • मैं तेरा आशिक़ था !

  • ये पल पल का खेल हैं
  • मुझे तब पता चला
  • हक़ीक़त सामने थी ये मुझे
  • अब पता चला !

  • तब मैं प्यासा था
  • प्यार पाने के लिए
  • अब मैं प्यासा हूँ
  • मंजिल पाने के लिए !
  • =======================================

  • हम उनकी तस्वीरों को छुप छुप के सजाया करते हैं
  • कभी रखते हैं इन आँखों में, कभी दिल में बसाया करते हैं
  • होती जब भी गहरी यादें, यादों का होता है मंज़र,
  • लेते हैं तस्वीर उसकी , फिर उस से बातें करते हैं,
  • खेलते हैं फिर ज़ुल्फों से, होंठों से लगाया करते हैं ,
  • वो न न कहती कभी नहीं, बस दिल से लग जाया करती है,
  • हम बाँहों में बस भर के उसे सपनों को खूब सजाते हैं,
  • हम उनकी तस्वीरों को छुप छुप के निहारा  करते हैं,
  • एक दिन ऐसा भी आया, जब नज़रों में वो छाए,
  • बस एकटक देखा उसने हमने होश गवाए
  • सब कुछ गवा सकते हैं, मगर उसकी तस्वीर छुपा के रखते हैं,
  • पर आँखों में जो तस्वीर उसकी, हम उसको छुपा न पाये,
  • इस दिल का हाल बयां करती तस्वीर उसकी कहती
  • मेरा सब कुछ है बस तस्वीर तुम्हारी मेरी
  • मैं हर गम को सह सकता हूँ, तुम बिन भी रह सकता हूँ,
  • बस इन आँखों से कुछ न कहना, तस्वीर को इनमें रहने देना,
  • तुझे  हर पल पूजा करता हूँ, बस तेरे इश्क़ में जीता हूँ
  • रोज़ सजा के तस्वीर तुम्हारी आँखों के मंदिर में बिठाया करता हूँ,
  • मैं तस्वीर तुम्हारी लेकर इस दिल में बसाया करता हूँ
  • =======================================


  • Ham unko tasveero ko chup chup ke sajaya karte hain,

  • Kabhi rakhte hain in ankho mein, kabhi dil mein basaya karte hain,

  • Hoti jab bhi gahri yadein, yado ka hota hai manzar,

  • Lete hain tasveer uski, phir us se batein karte hain,

  • Khelte hai phir zulpho se, hotho se lagaya karte hain,

  • Vo na na kehti kabhi nahi, bas dil se lag jaya karti hain,

  • Ham bahon mein bas bhar ke use, sapno mei khoob sajate hain,

  • Ham unki tasveero ko chup chup ke nihara karte hain,

  • Ek din aisa bhi aya jab nazron mein wo chaye,

  • Bas ek tak dekha usne, hamne hosh gawaye,

  • Sab kuch gawa sakte hain, magar uski tasveer chupa ke rakhte hain.

  • Par ankho mein jo tasveer uski, ham usko chupa na paye,

  • Is dil ka hal bayan karti tasveer uski kahti,

  • Mera sab kuch hai bas tasveer tumhari meri,

  • Main har gam ko sah sakta hoon, tum bin bhi rah sakta hoon,

  • bas in ankho se kuch na kahna, tasveer ko in mein rahne dena

  • Tujhe har pal puja karta hoon, bas tere ishq mei jeeta hoon,

  • Roz saja ke tasveer tumhari, ankho ke mandir mein bithaya karta hoon,

  • Main tasveer tumhari lekar is dil mein basaya karta hoon.

  • =======================================

  • आ गयी तू मुझे तेरा ही इंतज़ार था …
  • तुझे शायद नहीं पता होगा, मैं कितना बेक़रार था

  • खैर, पता है जब तू यहाँ नहीं थी
  • तो मेरे साथ क्या हो रहा था
  • मैं तो आँखें बंद करके सो रहा था
  • फिर भी लोग कहते हैं की मैं रो रहा था

  • अब उन नासमझों को कौन समझाए
  • क़ि वो मैं रो नहीं रहा था
  • वो तो अंदर का सैलाब बह रहा था
  • तुझे तो पता होगा कि मैं रोता नहीं
  • हर आंसू में तस्वीर है तेरी
  • इसीलिए मैं उनको खोता नहीं

  • अरे यार तू कुछ बोलती क्यों नहीं
  • पहले की तरह ये अश्क़ मेरे पोंछती क्यों नहीं

  • पता है जब तू गयी थी
  • तो सब बोलते थे
  • कि जो चले जाते हैं वो कभी लौटते नहीं
  • पय मुझे यकीं था, की तू आएगी
  • क्योंकि तू प्यार है मेरा
  • और जज़्बात कभी मरते नहीं

  • पर खफा हूँ तेरे उस धोखे से
  • तूने बिना मांगे जो दिया उस तोहफे से
  • माना मैंने कहा था
  • अपना दिल देदे मुझे
  • इसका ये मतलब नहीं
  • पगली दिल देके ज़िन्दगी देगी मुझे
  • जब होश आया डॉक्टर ने बताया सब,
  • रुक गयी मेरी सब सांसें तब
  • फिर फैसला किया
  • मैं भी आरहा हूँ तेरे पास
  • पर फिर डिल से आई आवाज़ तेरी
  • पगले हूँ तो मैं तेरे साथ

  • याद है तुझे
  • वो रास्ते जो
  • तुझे बहुत पसंद थे
  • अक्सर आज भी मैं
  • वहां से गुज़रा करता हूँ
  • जो तू मुझे बातें करती
  • उन रास्तों पर वही आवाज़ें सुना करता हूँ मैं

  • तू यहाँ नहीं थी
  • तो तेरे लिए कविता लिखता था
  • अक्सर कागज़ के पन्ने
  • हवा में फेकता था
  • अब तू कहेगी, ऐसा क्यों?
  • क्या मैं पागल हो गया था?

  • पर मैं उन पन्नो पर
  • तेरी ही खुशबु खोजता था
  • अगर इसे पागलपन कहते हैं,
  • तो हाँ यार मैं पागल हो गया था
  • =======================================

  • रातों के सन्नाटे में 
  • दिन के उजाले में
  • कभी महफ़िल में
  • कभी वीराने में
  • तू नहीं मिलता
  • तो तेरा ख्याल ही सही
  • दिल ये आशिक़ मेरा
  • तेरा दीदार मांगता है
  • तू न मिल सका
  • आज तेरा नाम ही सही
  • तेरी याद में यूं तो रोज़ बहाते हैं पानी
  • आज तेरी याद में एक जाम ही सही
  • सोचा था कभी तुझसे मुलाकात न होगी
  • पर आज तुझे देखा तो देखता रह गया |

  • =======================================
  • बहुत ही याद आता है मेरे दिल को तड़पाता है  
  • वो तेरा पास न होना बहुत मुझको रुलाता है
  • वो मेरा तेरी आँखों के समंदर में उत्तर जाना
  • और तेरी मुस्कुराहट के भंवर में डूबते जाना
  • तेरी आवाज़ के सहर से न निकल पाना
  • तुझको देखना और बेखुदी से देखते जाना
  • बहुत चाहा इन गुज़रे हुए लम्हों को न सोचूँ
  • न तेरी याद में रह के तेरे साथ का सोचूँ
  • भुला दूँ साड़ी यादों को कि जिनसे दिल तड़पता है
  • कि जिन से टीस उठती है कि जिनसे दर्द होता है
  • मगर जब रात आती है तो तेरी याद आती है
  • तेरे ही ख्वाब होते हैं तेरी ही बात होती है
  • अब मुमकिन नहीं है तुझको भुला देना
  • तेरी याद में रहना तुझे ही सोचते रहना
  • तुझे जब याद करते हैं तो दिल अपना तड़पता है
  • वो तेरा पास न होना बहुत महसूस होता है

  • =======================================

  • मेरा रंग हुस्न का खिलता जाये,
  • तू ही मेरे दिल को भाये,
  • मुझ पे चढ़ी जवानी योवन छाये,
  • मैं हुई बावरी तेरी,
  • मैं हुई दीवानी तेरी,
  • ख़यालों में तेरे जब भी डूबूं,
  • तेरी ही बाहों में झूमूँ,
  • तितली के मैं साथ चलूँ,
  • और दिल में तेरे रहलूँ,
  • ये प्यार कैसे रंग सजाये,
  • मेरा रंग हुस्न का खिलता जाये,
  • तस्वीर तेरी मैं रोज़ बनाऊँ,
  • प्यार के रंगों से उसे सजाऊँ,
  • मैं गुस्सा होके उससे रूठूँ,
  • उससे ही मैं तो कह दूँ,
  • कैसे कैसे रोग लगाये,
  • ये प्यार कैसे रंग सजाये,
  • मेरा रंग हुस्न का खिलता जाये,
  • तू ही मेरे दिल को भाये.

  • =======================================

  • जाने क्या बात है,sad
  • मेरा दिल आज उदास है
  • चहल पहल है चारों ओर
  • पर दिल में रुस्वाई है,
  • दुआ नहीं है आज होंठों पे
  • एक बेबसी सी छायी है…
  • मेरी मुहब्बत है मुझसे बिछडी,
  • या किसी कायामत का आगाज़ है,
  • ऐसा क्या खास है
  • जो मेरा दिल आज उदास है…
  • फूल एक दम बेरंग हैं,
  • खुशबू भी किसी ने चुराई है,
  • भंवरों ने भी आज,
  • ना लौट आने की कसम खाई है…
  • मेरी ज़िंदगी की मुझसे जुदाई है,
  • ये गहराई में दफन कोई राज़ है,
  • जाने क्या बात है,
  • मेरा दिल आज उदास है..
  • =======================================

  • तेरी यादों का मारा हूँ.…
  • कभी पागल कभी आवारा हूँ..
  • कभी तेरे खयालों में खो जाता हूँ..
  • कभी ख़यालों में ही तेरे संग जी लेता हूँ..
  • कभी नींद में भी बेचैन हो जाता हूँ..
  • तुझे सोचते रहना, तुझे चाहते रहना..
  • बस एक यही काम अब मुझे है करते रहना.…
  • तू मेरी क़िस्मत में है ही नहीं जाना…
  • पर दिल मेरा ये बात आज तक ना माना..
  • मैं तेरा इंतज़ार करूँगा..
  • इस जनम में क्या
  • हर जनम में तुझपे ये जान निसार करूंगा


  • =======================================
  • ये इश्क़ की अगन लगे तो मोरा तन मन ही जल जाये,love fire
  • जो तेरी लगन लगे तो मेरी सुधबुध ही खो जाये,
  • वो देश गया था पराए जो मुझको दिल से भुलाये,
  • फिर यादों ने जब जकडा वो दिल से मुझको बुलाये,
  • ये इश्क़ की अगन लगे तो मोरा तन मन ही जल जाये,
  • सांझ लगी कांटों सी, हवा भी दर्द को लाये,
  • जब बातें करती हैं रातें, सपनों में तू ही आये,
  • आँखों में आंसु रहते हैं जब नज़रों में तू छाये,
  • ये इश्क़ की अगन लगे तो मोरा तन मन ही जल जाये,
  • इस दिल का कतरा कतरा कहता तेरा पयार है मुझको पाना,
  • ना पाऊँ तुझे तो मर जाऊँ सांसो को अब ना रहना,
  • बिन तेरे क्या है जीना, जीना मुझको ना जीना,
  • ये इश्क़ की अगन लगे तो मोरा तन मन ही जल जाये,
  • जो तेरी लगन लगे तो मेरी सुधबुध ही खो जाये|

  • =======================================

  • मेरे प्यार् पर मुझको नाज़ है, 
  • वो भीना भीना सा एहसास है,
  • मेरे प्यार् सा दुनिया में ना कोई खास है,
  • इस दिल पे हाथ वो रखती है,
  • मेरे दिल को वही जंचती है,
  • जब दिल को अपने ढूँदू मैं
  • तो नटखत सी मुस्कती है,
  • मैं प्यार् में तेरे लुट जाऊँ,
  • मैं प्यार् में पागल हो जाऊँ,
  • मैं बन के दीवाना तेरे इश्क़ का
  • तेरे दिल में कहीं समा जाऊँ
  • मैने मन को अपने समझाया,
  • इस दिल को कितना बहलाया,
  • पर ना माना जब
  • दिल में तेरी तस्वीर को सजया
  • इस दिल को तेरी प्यास है,
  • तू हर पल मेरे पास है,
  • सुबह से लेके रात तक
  • बस प्यार् का हरदम साथ है,
  • मेरे प्यार् पर मुझको नाज़ है.

  • =======================================

  • एक वॅलिंटाइन की रात,be-my-valentine
  • वो मेरे दिल के पास,
  • आँखों से आँखों ki होने लगी बात,
  • तेरे पास फिर मैं आया
  • गोद में तुझे उठाया,
  • तेरी ज़ुल्फ़ों को
  • अपने हाथों से मैने सजाया,
  • फिर बैठ के तेरे सामने कही दिल की बात
  • इस वॅलिंटाइन की रात
  • मेरी प्रिन्सेस तुम हो बहुत खास,
  • सोचा तुमको आज मैं तोहफा क्या दूँ खास,
  • जो हर पल रहे तेरे दिल के पास,
  • फिर मैने हाथ बढ़ाया
  • तुझे गले से लगाया,
  • तेरे होंठों से अपने होंठों को
  • मैने फिर मिलाया,
  • खोल के तेरी ज़ुल्फ़ें
  • सितारों से सजाई,
  • प्यार के इन रंगों से
  • तेरी तस्वीर आज बनाई,
  • तुम थी बहुत खामोश
  • पर धड़कन में कुछ शोर था,
  • कह रही थी वो भी मुझसे
  • कि तेरे दिल में ना कोई और था,
  • फिर मैने तुझे सताया
  • ये कहके तुझे मनाया,
  • चुपचाप तू ना रहना
  • तू भी कुछ कहना,
  • मेरे साथ साथ तू भी प्यार के गीत गाना,
  • सजदे में तेरे झुक के मैं तुझको आज बताऊँ,
  • अब सारी उमर मैं वॅलिंटाइन तेरे साथ मनाऊँ,
  • बस तेरे साथ मनाऊँ.

Comments