Khafa Shayari free 2018


  • Har Baar Ilzaam Hum Par Hi Lagana Theek Nahi,
  • Wafa Khud Se Nahi Hoti Khafa Hum Par Hote Ho.
  • हर बार इल्जाम हम पर लगा!ना ठीक नहीं,
  • वफ़ा खुद से नहीं होती खफा हम पर होते हो।

  • Woh Dhoondh Rahe The Mujhko Bhool Jane Ke Tareeke,
  • Khafa Ho Kar Unki Mushkil Aasaan Kar Di Humne.
  • वो ढूढ़ रहे थे मुझ को भूल! जाने के तरीके, 
  • खफा हो कर उनकी मुश्किल आसान कर दी हमने।

  • Woh Aaye The Mera Dukh-Dard Baantne Ke Liye,
  • Mujhe Khush Dekha To Khafa Ho Kar Chal Diye.
  • वो आए थे मेरा दुख-दर्द बाँटने के लिए,
  • मुझे खुश देखा तो ख!फा होकर चल दिये।

  • Thodi Thodi Hi Sahi Magar Baatein To Kiya Karo,
  • Chupchap Rehti Ho To Khafa Khafa Si Lagti Ho.
  • थोडी थोडी ही सही मगर बाते तो किया करो,
  • चुपचाप रहती हो! तो खफा खफा सी लगती हो।

  • Roothh Jana Toh Mohabbat Ki Alamat Hai Magar,
  • Kya Khabar Thi Mujh Se Woh Itna Khafa Ho Jayega.
  • रूठ जाना तो मो!हब्बत की अलामत है मगर,
  • क्या खबर थी मुझ से वो इतना खफा हो जाएगा
  •  
  • Log Kehte Hain Ke Ab Bhi Khafa Hai Mujhse,
  • Teri Aankhon Ne Toh Kuchh Aur Kaha Hai Mujhse.
  • लोग कहते हैं कि तू अब भी ख़फ़ा है मुझसे,
  • तेरी आँखों ने तो कुछ और कहा है मुझसे।

  • Todkar Ahd-e-Karam Na Aashna Ho Jaiye,
  • BandaParvar Jaiye Achha Khafa Ho Jaiye.
  • तोड़कर अहदे-करम न आशना हो जाइये,
  • बंदापरवर जाइये अच्छा खफा हो जाइये।

  • Kamal Ka Shakhs Tha Jisne Zindgi Tabaah Kar Di,
  • Raaz Ki Baat Hai D!il Uss Se Khafa Ab Bhi Nahi.
  • कमाल का शख्स था जिसने ज़िंदगी तबाह कर दी,
  • राज़ की बात है दिल उससे खफा अब भी नहीं।
  • !
  • Kis Kis Ko Batayenge! Judai Ka Sabab Hum,
  • Tu Mujhse Khafa Hai To Zamane Ke Liye Aa.
  • किस-किस को बताएँगे! जुदाई का सबब हम,
  • तू मुझ से खफा है, तो जमाने के लिए आ।

  • Itna Toh Bataa !Jaao Khafa Hone Se Pehle,
  • Woh Kya Karein Jo Tum Se Khafa Ho Nahi Sakte.
  • इतना तो बता जाओ खफा होने से पहले,
  • वो क्या करें जो तुम से खफा हो नहीं सकते।

No comments:

Post a Comment