Being Yourself Quotes in Hindi Status


  • किसी के साथ किसी भी प्रति!योगिता की कोई जरूरत नहीं है. जेसे तुम हो , आप वही हो . और आप पूरी तरह से ठीक हो .. आप अपने आपको स्वी!कार करो .
  • =================================


  • सबसे बड़ी मुक्ति है स्व!यं को मुक्त करना क्योंकि साधारणतया हम भूले ही रहते है कि स्वयं पर हम स्वंय ही सबसे बड़ा बोझ है |
  • =================================


  • स्वयं पर आग्रह करो, अनुकरण मत करो।
  • =================================


  • केवल खुद से प्रतिस्पर्धा करने वाला व्यक्ति ही जीवन में सर्वश्रेठ दे पाता है, दूसरों से प्रतिस्पर्धा करने वाले व्यक्ति दूसरों से तो आगे निकल जाते है पर खुद के सर्वश्रेठ से पीछे रह जाते है।
  • =================================


  • अपना मूल्य समझो और !विश्वास करो कि आप संसार के सबसे महत्त्वपूर्ण व्यक्ति हो।
  • =================================
  • आप अभी वो हैं जो आप रह चुके हैं. !आप बाद वो होंगे जो आप अभी करेंगे.
  • =================================


  • जब तक आप न चाहें तब तक! आपको, कोई भी ईर्ष्‍यालु, क्रोधी प्रतिशोधी या लालची नहीं बना सकता …
  • =================================


  • किसी से किसी भी तरह !की प्रतिस्पर्धा की आवश्यकता नहीं है। आप स्वयं में जैसे है एकदम सही है।
  • =================================

  • निरंतर विकास जीवन का एक नि!यम है, और जो भी व्यक्ति खुद को सही दिखाने के लिए अपनी रूढ़िवादिता को बरकरार रखने की कोशिश करता है वो खुद को एक गलत स्थिति में पंहुचा देता है।
  • =================================


  • खुद की कीमत और क्षमता पहचानें, कभी भी खुद को गैरजरूरी महसूस न करें.
  • =================================


  • जैसे हैं वैसे ही रहने से! दुनिया की सभी अच्छी बातें आपके साथ होगी।
  • =================================

  • अपने आप की तुलना किसी से मत !करो, यदि आप ऐसा कर रहे है तो आप स्वयं अपनी बेइज़्ज़ती कर रहे है।
  • =================================


  • खुद के लिए और अप!नी माजूदा स्थिति के लिए अफ़सोस करना , ना केवेल उर्जा की बर्वादी है बल्कि शायद ये सबसे बुरी आदत है जो आपके अन्दर हो सकती है.
  • =================================


  • सबसे रचनात्मक कार्य जो आप कभी भी करेंगे वो स्वयम को बनाने का कार्य होगा.
  • =================================


  • ना किसी के अभाव में जियो, ना किसी के प्रभाव में जियो। यह जिंदगी है आपकी, अपने स्वभाव में जियो।
  • =================================

  • अगर आप उस इंसान की तलाश कर रहे हैं जो आपकी ज़िन्दगी बदलेगा, तो आईने में देख लें।
  • =================================
  • =================================


  • हमेशा अपने! वास्तिक रूप में रहो , खुद को व्यक्त करो , स्वयं में भरोसा रखो , बाहर जाकर किसी और सफल व्यक्तित्व को मत तलाशो !और उसकी नक़ल मत करो।
  • =================================

  • खुद की तुलना ज्यादा भाग्यशा!ली लोगों से करने कि बजाये हमें अपने साथ के ज्यादातर लोगों से अपनी तुलना करनी चाहिए.और !तब हमें लगेगा कि हम कितने भाग्यवान हैं.


  • किसी से किसी भी तरह की प्रतिस्पर्धा की आवश्यकता नहीं है. आप स्वयं में जैसे हैं एकदम सही हैं. खुद को स्वीकारिये.
  • =================================

  • जो आप करते हैं और जो आप हैं उसके लिए और अधिक श्रेय पान चाहते हैं ? वो बनिए जो औरों को श्रेय देता है .
  • =================================


  • अगर आप उस इंसान! की तलाश कर रहे हैं जो आपकी ज़िन्दगी बदलेगा, तो आईने में देख लें।
  • =================================

  • आपकी कीमत इसमें है कि आप! क्या हैं , इसमें नहीं कि आपके पास क्या है .
  • =================================


  • आपकी इज़ाज़त के बिना! कोई आपको नीचा नहीं दिखा सकता है.
  • =================================

  • अच्छी तरह से जान ली!जिये आपको आपके सिवा कोई और सफलता नहीं दिला सकता

  • =================================

  • Dil Main Har Ra!az Daba Kar Rakhte Hain
  • Hontoon Per Muskurahat Saja Kar Rakhte
  • Hain.
  • Yeh Duniya !Sirf Khushi Mein Saath Deete Hai
  • Iss Liye Hum Apne Aansoon Ko Chupa Kar
  • Rakhte Hain.

  • =================================

  • जितना कम आप अपना ह्र!दय दूसरों के समक्ष खोलेंगे, उतनी अधिक आपके ह्रदय को पीड़ा होगी.
  • =================================


  • यह ज़रूरी है कि हम अपना दृष्टि!कोण और ह्रदय जितना सभव हो अच्छा करें. इसी से हमारे और अन्य लोगों के जीवन में, अल्पकाल और दी!र्घकाल दोनों में ही खुशियाँ आयंगी.
  • =================================


  • प्रसन्नता पहले से निर्मित कोई! चीज नहीं है..ये आप ही के कर्मों से आती है.

No comments :

Post a Comment