Shayari Hi Shayari-Images Download,Dard Ishq,Love,Zindagi, Yaadein, Funny,New Year Sms love hindi shayari images download,happy new year shayari images download hindi 2018 ,Ghazal 2018.

judai shayari sms message 2017



  • गलतियों से जुदा तु भी नहीं, मैं भी नहीं;
  • दोनों इंसान हैं, ख़ुदा तु भी नहीं, मैं भी नहीं;
  • गलतफहमियों ने कर दी दो@नों में पैदा दूरियां;
  • वरना फितरत का बुरा तु भी नहीं था, मैं भी नहीं।
  • ===========================================  
  • कैसी अजीब तुझसे यह जुदाई थी,
  • कि तुझे अलविदा @भी ना कह सका;
  • तेरी सादगी में इतना फरेब था,
  • कि तुझे बेवफा भी ना कहा सका।
  • ===========================================  
  • भूल जाने का हौसला ना हुआ;
  • दूर रह कर भी वो जुदा ना हुआ;
  • उनसे मिल कर किसी और से क्या मिलते;
  • कोई दूसरा उनके जैसा ना हुआ।
  • ===========================================  
  • ज़ुबान खामोश आँखों में नमी होगी;
  • ये बस एक दास्तां-ए ज़िंदगी होगी;
  • भरने को तो हर ज़ख्म भर जाएगा;
  • कैसे भरेगी वो जगह जहाँ तेरी कमी होगी।
  • ===========================================  
  • हो जुदाई का सबब कुछ भी मगर;
  • हम उसे अपनी ख@ता कहते हैं;
  • वो तो साँसों में बसी है मेरे;
  • जाने क्यों लोग उसे मुझे जुदा कहते हैं।
  • =========================================== 
  • आज कुछ कमी सी है तेरे बगैर;
  • ना रंग ना रौशनी है तेरे बगैर;
  • वक़्त अपनी रफ़्तार से चल रहा है;
  • बस धड़कन थम @सी गयी है तेरे बगैर।
  • ===========================================   
  • दिल की धड़कन को, एक लम्हा सबर नहीं;
  • शायद उसको @अब मेरी ज़रा भी कदर नहीं;
  • हर सफर में मेरा कभी हमसफ़र था वो;
  • अब सफर तो है मगर वो हमसफ़र नहीं।
  • जुदाई   
  • कुछ बिखरे सपने और आँखों में नमी है;
  • एक छोटा सा आसमान और उमीदों की ज़मीं है;
  • यूँ तो बहुत कुछ है ज़िंदगी में;
  • बस जिसे चाहते हैं उसी की कमी है।
  • ===========================================   
  • तुझसे दूर अब हम जा नहीं सकते;
  • तुझसे प्यार कितना है यह हम बता नहीं सकते;
  • हमें मालूम है ये ज़िन्दगी है चार दिन की लेकिन;
  • तेरे बिन ये चार दिन तो क्या दो पल भी हम बिता नहीं सकते।
  • ===========================================  
  • अगर जिंदगी में जुदाई न होती;
  • तो कभी किसी की या@द न आई होती;
  • अगर साथ गुजरा होता, हर लम्हा;
  • तो शायद रिश्तों में इतनी, गहराई न होती

  • =========================================== 
  • उसको चाहा प@र इज़हार करना नहीं आया;
  • कट गयी उम्र पर हमें प्यार करना नहीं आया;
  • उसने कुछ माँगा भी तो मांगी जुदाई;
  • और हमें भी इंकार करना नहीं आया।
  • =========================================== 
  • हम तेरे दिल में रहेंगे एक याद बनकर;
  • तेरे लब पे खिलेंगे मुस्कान बनकर;
  • कभी हमें अपने से जुदा न समझना;
  • हम तेरे चलेंगे आसमान बनकर।
  • ===========================================    
  • ऐ दोस्त कभी ज़िक्र-ए-जुदाई न करना;
  • मेरे भरोसे को रुस्वा न करना;
  • दिल में तेरे कोई और बस जाये तो बता देना;
  • मेरे दिल में रह कर बेवफाई न करना।
  • =========================================== 
  • हो जुदाई का सबब कुछ भी मगर;
  • हम उसे अपनी खता कहते हैं;
  • वो तो साँसों में बसी है मेरे;
  • जाने क्यों लोग उसे मुझे जुदा कहते हैं।
  • =========================================== जुदाई   
  • तेरे होते हुए भी तन्हाई मिली;
  • वफ़ा करते भी देखो बुराई मिली;
  • जितनी दुआ की तुम्हें पाने की;
  • उस से ज्यादा तेरी जुदाई मिली।
  • =========================================== 
  • तू है मुझमें शामिल इस तरह;
  • तेरा तसव्वर ज़िक्र भी क@रूँ किस तरह;
  • चाहे दूर सही लेकिन तू है इस दुनिया में;
  • तेरी उम्मीद रहते हुए मैं मरुँ किस तरह।
  • ==============@============================= 
  • हमें तो अपना दिल लगता अवारा है;
  • जो चाहे चला जाए हमें ठुकरा के;
  • रह लेंगे हम तो बस यूँ ही तन्हा;
  • बस एक आपके जाने से रह जाएंगे हम तड़प के।
  • जु===========================================    
  • मेरी चाहत में कोई खोट तो नहीं शामिल;
  • फिर क्यों वो बार-बार आज़माए मुझे;
  • दिल उसकी@ याद से एक पल भी नहीं जुदा;
  • फिर कैसे मुमकिन है वो भूल जाए मुझे।
  • ===========================================  
  • मोहब्बत मुक़द्दर है एक ख्वाब नहीं;
  • ये वो रिश्ता है जिस में सब कामयाब नहीं;
  • जिन्हें साथ मिला उन्हें उँगलियों पर गिन लो;
  • जिन्हें मिली जुदाई उनका कोई हिसाब नहीं।
  • जु===========================================   
  • तुझे पाने की आरज़ू में तुझे गंवाता रहा हूँ;
  • रुस्वा तेरे प्यार में होता@ रहा हूँ;
  • मुझसे ना पूछ तू मेरे दिल का हाल;
  • तेरी जुदाई में रोज़ रोता रहा हूँ।


  • =========================================== 
  • वो मिल जाते हैं कहानी बनकर;
  • दिल में बस जाते@ हैं निशानी बनकर;
  • जिन्हें हम रखते हैं आँखों में;
  • जाने वो क्यों निकल जाते हैं पानी बनकर।
  • ===========================================  
  • कौन कहता है कि हमारी जुदाई होगी;
  • ये अफवाह किसी दुश्मन ने फैलाई होंगी;
  • शान से रहेंगे आपके दिल में;
  • इतने दिनों में कुछ तो जगह बनाई होगी।
  • ===========================================    
  • प्यार करने वालों की किस्मत बुरी होती है;
  • मुलाक़ात जुदाई से जुड़ी होती है;
  • वक़्त मिले तो प्यार की किताब पढ़ना;
  • हर प्यार करने वालों की कहानी अधूरी होती है।
  • ===========================================   
  • जुबान खामोश आँ@खों में नमी होगी;
  • ये बस दास्ताँ-ए-ज़िंदगी होगी;
  • भरने को तो हर ज़ख्म भर जाएंगेः;
  • कैसे भरेगी वो जगह जहाँ तेरी कमी होगी।
  • ===========================================  
  • कर दिया कुर्बान खुद को हमने वफ़ा के नाम पर;
  • छोड़ गए वो हमको अ@केला, मज़बूरियों के नाम पर।
  • ===========================================   
  • तन्हाई जब मुक़द्दर में लिखी है;
  • तो क्या शि@कायत अपनों और बेगानों से;
  • हम मिट गए जिनकी चाहत में;
  • वो बाज ना आए हमे आज़माने से।
  • ===========================================  
  • हम अपना दर्द किसी को कहते नही;
  • वो सोचते हैं कि हम तन्हाई सहते नहीं;
  • आँखों से आँसू निकले भी तो कैसे;
  • क्योंकि सूखे हुए दरिया कभी बहते नहीं।
  • ===========================================    
  • ये प्यार की बातें किताबों में ही अच्छी लगती हैं;
  • तन्हाई भरी महफ़िल दर्दे दिल से ही सजती है;
  • तुम तो कर गए एक पल में पराया;
  • तेरी यादें ही हैं जो हमें अपनी लगती हैं।
  • जु===========================================   
  • वो देता है दर्द बस हमी को;
  • क्या समझेगा वो इन आँखों की नमी को;
  • लाखों दीवाने हों जिस के;
  • वो क्या महसूस करेगा एक हमारी कमी को।
  • ===========================================   
  • जगाया उन्होंने ऐसा@ के अब तक सो न सके;
  • रुलाया उन्होंने ने फिर भी हम रो न सके;
  • न जाने क्या बात थी उन में;
  • जो अब तक हम किसी के भी न हो सके
  • =========================================== 


  • ग़म ने हंसने ना दिया, ज़माने ने रोने ना दिया;
  • इस उलझन ने जीने ना@ दिया;
  • थक के जब सितारों से पनाह ली;
  • नींद आई तो आपकी याद ने सोने ना दिया।
  • ===========================================  
  • हर चेहरे पर गुमान उसका था;
  • बसा ना सका खाली मकान उसका था;
  • लाखों दर्द मिट गए दिल से लेकिन;
  • जो मिट ना सका वो एक नाम उसका था।
  • ===========================================  
  • दिल नहीं लगता आपको देखे बिना;
  • दिल नहीं लगता आपके बारे में सोचे बिना;
  • आँखें भर आती हैं यह सोच कर;
  • कि किस हाल में होंगे आप हमारे बिना।
  • ===========================================    
  • बहुत चाहा पर उन्हें भुला ना सके;
  • ख्यालों में किसी और को ला ना सके;
  • किसी को देख कर आंसू तो पोंछ लिए;
  • पर किसी को देख कर हम मुस्कुरा ना सके।
  • ===========================================    
  • थक गए हम उनका @इंतज़ार करते-करते;
  • रोए हज़ार बार खुद से तकरार करते-करते;
  • दो शब्द उनकी ज़ुबान से निकल जाते कभी;
  • और टूट गए हम एक तरफ़ा प्यार करते-करते।
  • ===========================================   
  • तन्हा हो कभी, तो मुझ को ढूंढना;
  • दुनियां से नहीं, अ@पने दिल से पूछना;
  • आस-पास ही कहीं बसे रहते हैं हम;
  • यादों से नहीं, साथ गुज़ारे लम्हों से पूछना।
  • ===========================================   
  • आप को खोने का हर पल डर लगा रहता है;
  • जब कि आपको पाया ही नहीं;
  • तुम बिन इतना त@न्हा हूँ मैं;
  • कि मेरे साथ मेरा साया भी नहीं।
  • ===========================================    
  • तेरी याद में आंसुओं का समंदर बना लिया;
  • तन्हाई के शहर में अपना घर बना लिया;
  • सुना है लोग पूजते हैं पत्थर को;
  • इसलिए तुझसे जुदा होने के बाद दिल को पत्थर बना लिया।
  • ===========================================   
  • रात इतनी हसीन थी कि सारे सो रहे थे;
  • हम ही ऐसे बदनसीब थे, जो आपकी याद में रो रहे थे।
  • ===========================================  
  • सब फूलों की जुदा कहानी है;
  • खामोशी भी तो प्यार की निशानी है;
  • ना कोई ज़ख्म है, फिर भी ऐसा एहसास है;
  • यूँ महसूस होता है कोई आज भी दिल के पास है

  • =========================================== 
  • ग़म में हँसने वालों को कभी रुलाया नहीं जाता;
  • लहरों से पानी को हटाया नहीं जाता;
  • होने वाले हो जाते हैं खु@द ही दिल से जुदा;
  • किसी को जबर्दस्ती दिल में बसाया नहीं जाता।
  • =========================================== जुदाई   
  • बिताए हुए कल में आज को ढूँढता हूँ;
  • सपनों में सिर्फ आप@को देखता हूँ;
  • क्यों हो गए आप मुझसे दूर, यह सोचता हूँ;
  • तन्हा, यारों से छुपकर रोता हूँ।
  • ===========================================  
  • भुला कर हमें वो क्या खुश रह पाएंगे;
  • साथ में नहीं हमारे जा@ने के बाद मुस्कुराएंगे;
  • दुआ है खुद से कि उन्हें दर्द ना देना;
  • हम तो सह गए, पर वो टूट जाएंगे।
  • ===========================================   
  • भूल जाने का हौसला ना हुआ;
  • दूर रह कर भी वो जुदा ना हुआ;
  • उनसे मिल कर @किसी और से क्या मिलते;
  • कोई दूसरा उनके जैसा ना हुआ!
  • ===========================================   
  • नज़र नवाज़ नज़रों में ज़ी नहीं लगता;
  • फ़िज़ा गई तो बहारों में ज़ी नहीं लगता;
  • ना पूछ मुझसे तेरे ग़म @में क्या गुजरती है;
  • यही कहूंगा हज़ारों में ज़ी नहीं लगता।
  • ===========================================    
  • नफ़रत कभी ना करना तुम हमसे;
  • यह हम सह नहीं @पायेंगे;
  • एक बार कह देना हमसे, ज़रूरत नहीं अब तुम्हारी;
  • तुम्हारी दुनियाँ से हंसकर चले जायेंगे!
  • ===========================================  
  • हर किसी के नसीब में सच्चा प्यार नहीं होता;
  • सब किस्मत का खेल है,
  • किसी का कोई दो@ष नहीं होता;
  • मेरे नसीब में सिर्फ तड़प, जुदाई, और नफरत ही बची है, अब खुश रह नहीं होता।
  • ===========================================   
  • पलकों के किनारे हमने भिगोए ही नहीं;
  • वो सोचते हैं हम रोए ही @नहीं;
  • वो पूछते हैं कि ख़्वाबों में किसे देखते हो;
  • हम हैं कि एक उम्र से सोए ही नहीं।
  • ===========================================   
  • ज़ुबान खामोश आँखों में नमी होगी;
  • ये बस एक दास्तां-ए ज़िंदगी होगी;
  • भरने को तो हर ज़@ख्म भर जाएगा;
  • कैसे भरेगी वो जगह जहाँ तेरी कमी होगी?
  • ===========================================   
  • सुन लिया हम ने फैसला तेरा;
  • और सुन के @उदास हो बैठे;
  • ज़हन चुप चाप आँख खाली;
  • जैसे हम क़ायनात खो बैठे।



No comments:

Post a Comment