Romantic Shayari Teri Aarzoo Hindi


  • Koi Tabeez Aisa Do Ki Main Chalaak Ho Jaun, Bahut Nuksaan Deti Hai Mujhe Yeh Saadgi Meri. 

  • कोई ताबीज़ ऐसा दो कि मैं चालाक हो जाऊं, बहुत नुकसान देती है मुझे ये सादगी मेरी। 


  • Waqif Tha Meri Khana-Kharabi Se Woh Shakhs, Jo Mujhse Mere Ghar Ka Pataa Puchh Raha Tha. 

  • वाकिफ था मेरी खाना-खराबी से वो शख्स, जो मुझसे मेरे घर का पता पूछ रहा था। 

  • Karam Hi Karna Hai Tujhko Toh Yeh Karam Kar De, Mere Khuda Tu Meri Khwahishon Ko Kam Kar De.

  •  करम ही करना है तुझको तो ये करम कर दे, मेरे खुदा तू मेरी ख्वाहिशों को कम कर दे।

  •  Seekh Raha Hu Dheere Dheere Iss Duniya Ke Rivaaj, JisSe Matlab Nikal Jaye Use Dil Se Nikaal Do. 

  • सीख रहा हूँ धीरे धीरे इस दुनिया के रिवाज, जिससे मतलब निकल गया उसे दिल से निकाल दो।



  • Na Peechhe Murh Ke Dekho Na Aawaj Do Mujhko, Badi Mushkil Se Seekha Hai Maine Alvida Kehna. 

  • ना पीछे मुड़ के देखो ना आवाज़ दो मुझको, बड़ी मुश्किल से सीखा है मैंने अलविदा कहना। 

  • Muskarate Rahoge Toh Duniya Aapke Kadmo Me Hogi, Varna Aanshuon Ko Toh Aankhein Bhi Pannah Nahi Deti. 

  • मुस्कुराते रहोगे तो दुनिया आपके क़दमों में होगी, वरना आंसुओं को तो तो आँखें भी पनाह नहीं देती। 

  • Janta Hun Yeh Khwab Jhuthe Hain Khwahishein Adhuri Hain, Par Zinda Rahne Ko GalatFahmiyan Bhi Jaruri Hain. 

  • जानता हूँ ये ख्वाब झूठे हैं ख्वाहिशें अधूरी हैं, पर जिन्दा रहने को गलतफहमियाँ भी जरूरी हैं। 

  • Sirf Tune Hi Kabhi Mujhko Apna Na Samjha, Jamana Toh Aaj Bhi Mujhe Tera Diwana Kehta Hai. 

  • सिर्फ तूने ही कभी मुझको अपना न समझा, जमाना तो आज भी मुझे तेरा दीवाना कहता है। 

  • Jaane Kis Baat Ki Unko Shikayat Hai Mujhse, Naam Tak Jinka Nahi Mere Afsaane Mein. 

  • जाने किस बात की उनको शिकायत है मुझसे, नाम तक जिनका नहीं है मेरे अफ़साने में।



  • Hawa Se Kah Do Khud Ko Aazma Ke Dikhaye, Bahut Chirag Bujhati Hai Ek Jala Ke Dikhaye.

  •  हवा से कह दो खुद को आज़मा के दिखाये, बहुत चिराग बुझाती है एक जला के दिखाये। 

  • Jo Roshani Me Khade Hain Wo Jante Hi Nahi, Hawaa Chale To Chairagon Ki Zindgi Kya Hai. 

  • जो रोशनी में खड़े हैं वो जानते ही नहीं, हवा चले तो चरागों की जिंदगी क्या है। 

  • Aandhi Ne Torh Dee Hain Darakhto Ki Tehniyan, Kaise Kategi Raat... Parinde Udaas Hain. 

  • आंधी ने तोड़ दी हैं दरख्तों की टहनियां, कैसे कटेगी रात... परिंदे उदास हैं



  • Saadgi Agar Lafzo Mein Ho Toh Yakeen Mano, Pyar Bepanah Aur Dost Bemisal Mil Jate Hain. 

  • सादगी अगर हो लफ्जो में हो तो यकीन मानो, प्यार बेपनाह और दोस्त बेमिसाल मिल ही जाते हैं। 

  • Main Haath Ki Nabz Kaate Baitha Hun, Shayad Tum Dil Se Nikal Jaao Khoon Ke Jariye. 

  • मैं हाथ की नब्ज़ काटे बैठा हूँ, शायद तुम दिल से निकल जाओ ख़ून के ज़रिये। 

  • Ek Chaahat Thi Kebal Aapke Saath Jeene Ki, Varna Mohabbat To Kisi Ke Saath Ho Sakti Thi. 

  • एक चाहत थी केबल आपके साथ जीने की, वरना मोहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी। 

  • Log Toh So Lete Hain Jamaane Ki Chahal Pahal Mein Bhi, Mujhe Toh Teri Khamoshi Sone Nahi Deti. 

  • लोग तो सो लेते हैं जमाने की चहल पहल में भी, मुझे तो तेरी ख़ामोशी सोने नही देती। 

  • Aur Kya Likhun Apni Zindgi Ke Baare Mein Dosto, Woh Log Hi Bichhad Gaye Jo Zindgi Hua Karte The. 


  • और क्या लिखूँ अपनी जिंदगी के बारे में दोस्तों, वो लोग ही बिछड़ गए जो जिंदगी हुआ करते थे।


  • Tere Seene Se Lagkar Teri Aarzoo Ban Jaun, Teri Saanso Se Milkar Teri Khushbu Ban Jaun, Faasle Na Rahein Koi Tere Mere Darmiyan, Main... Main Na Rahun Bas Tu Hi Tu Ban Jaun. 

  • तेरे सीने से लगकर तेरी आरजू बन जाऊँ, तेरी साँसो से मिलकर तेरी खुश्बू बन जाऊँ, फासले ना रहें कोई तेरे मेरे दरमिआँ, मैं...मैं ना रहूँ बस तू ही तू बन जाऊँ। 

  • Tujhse Ru-B-Ru Hokar Baatein Karu, Nigahein Milakar Wafa Ke Vaade Karu, Thaam Kar Tera Hath Baith Jaun Tere Samne, Teri Haseen Surat Ke Nazaare Karu. 

  • तुझसे रु-ब-रु होकर बातें करूँ, निगाहें मिलाकर वफ़ा के वादे करूँ, थाम कर तेरा हाथ बैठ जाऊं तेरे सामने, तेरी हसीन सूरत के नज़ारे करूँ। 

  • Dhadakte Huye Dil Ka Qaraar Ho Tum, Inn Saji Mehfilon Ki Bahaar Ho Tum, Tarasti Huyi Nigaahon Ka Intezaar Ho Tum, Meri Zindagi Ka Pehla Pyar Ho Tum. 

  • धडकते हुए दिल का करार हो तुम, इन सजी महफिलों की बहार तो तुम, तरसती हुयी निगाहों का इंतज़ार हो तुम, मेरी जिंदगी का पहला प्यार हो तुम।



No comments :

Post a Comment