Shayari Hi Shayari-Images Download,Dard Ishq,Love,Zindagi, Yaadein, Funny,New Year Sms love hindi shayari images download,happy new year shayari images download hindi 2018 ,Ghazal 2018.

Sad shayari collection new 2017


  • Jab jaan pyari thi tab dushman hazaron the,
  • Ab marne ka shauk hai to kaatil nahi milte.
  • Chheen Li Hain Khalaq Ne Mujhse Meri Tanhaayi Tak,
  • Ab Aa Pahunchaa Hain Ishq Ilzaam Sey Ruswaayi Tak!

  • Har Tasveer K 2 Rukh Hai, Jaan Or Gam-e-Jaana,
  • Ek Naqsh Chhupana Hain Ek Naqsh Dikhana Hain!

  • kaise kare hal e dil baya hum k har dard nasur ho gaya hai pas tha samandar dil k pas phir bhi ek musafir pyasa reh gaya hai..
  • sikwa nhi kisi se kisi se gila nhi -nasib me nhi ta jo hmako mila nhi
  • Nikle hum duniya ki bhid mein to pata chala, Har wó shakhs tanha hai jisne pyar kiya.
  • Ajeeb Hoti Hain Mahobbat Ki Raahain Bhi
  • Rasta Koi Badalta Hai,
  • Manzil Kisi Ki Kho Jati Hai..!!
  • Itna Bhi Pyaar Kis Kaam Ka..
  • Bhulna Bhi Chaho To Nafrat Ki Hadd Tak Jana Pade.
  • Bematlab Ki Duniya Ka Kissa Hi Khatm.
  • Ab Jis Tarah Ki Duniya Us Tarah Ke Hum.
  • Mohabbat ki hawa Jism ki dawa ban gayi, Doori aapki meri chahatki saza ban gayi,
  •  

  • Kaise bhulun aapko ek pal k liye, aapki yaad himere jeene ki vajah ban gayi.

  • Hadso ke gawah hum bhi hai…Apne Dil se tabah hum bhi hai,,Jurm ke bina Saza-E-Mout mili…Ese Begunah hum bhi hai.

  • True Lines:-

  • We can forget the life which we lived before,
  • But it is very painful to forget the life which we were dreaming to live..

  • Tera dukh hum seh nahi sakte,
  • bhari mehfil me kuch keh nahi sakte,
  • hamare girte aansu pakad ke dekh,
  • wo bhi kehte hai yaar hum SMS kare bin reh nahi sakt
  • Barsi Ankhe Jiski Yaad Me Barsat Ki trah, Wo B BadaL Gaya Mere HaLat Ki trah,
  • HaaL Jite Ji Koi Puchta Nhi, Fir Maut Pe Q Ate Hai Sab Barat Ki trah.
  • Mohabbat ke andaz juda juda se hote hai.. Kisi ne toot kr chaha,., or koi chah kr toot gaya.
  • Bahaana kyun talaasha rooth jaane ka,
  • Bas itna keh dete dil mein jagah nahi rahi ab
  • लूट लेते हैं अपने ही,
  • वरना गैरों को क्या पता इस दिल की दीवार कमजोर कहाँ से है
  • एक अज़ीब सा रिश्ता है मेरे और ख्वाहिशों के दरम्यां, वो मुझे जीने नही देती… और मै उन्हे मरने नही देता..
  • Doobi Hain Meri Ungliyan Mere Hi Khoon Main, Ye Kaanch Ke Tukroon par Bharose ki Saza hai.
  • तुमने समझा ही नहीं…और ना समझना चाहा, हम चाहते ही क्या थे तुमसे… “तुम्हारे सिवा”
  • रिश्ते खराब होने की एक वजह ये भी है, कि लोग झुकना पसंद नहीं करते…
  • सिर्फ मोहब्बत ही ऐसा खेल है, जो सिख जाता है वही हार जाता है।
  • मौहब्बत की मिसाल में,बस इतना ही कहूँगा , बेमिसाल सज़ा है,किसी बेगुनाह के लिए..
  • मुजे ऊंचाइयों पर देखकर हैरान है बहुत लोग, पर किसी ने मेरे पैरो के छाले नहीं देखे…
  • हम तुम्हें मुफ़्त में जो मिले हैं, क़दर ना करना हक़ है तुम्हारा..
  • Aaj Koi Shayari Nhi Bas Itna Sun Lo, Main Tanha hun Aur Wajah Tum Ho.
  • Bepanah mohabbat ka ek hi usool hai, Mile ya na mile, tu har haal main qabool hai.
  • Itni thokar dene ke liye shukriya aey zindagi, Chalne ka nahi sahi sambhalne ka hunar toh aa gaya.
  •  “हमने तुम्हें उस दिन से और ज़्यादा चाहा है,  जबसे मालूम हुआ के तुम हमारे होना नही चाहते ..”
  • “वो बोलते रहे हम सुनते रहे,  जवाब आँखों में था वो जुबान में ढूंढते रहे ..”
  • “रिश्ते उन्ही से बनाओ जो निभानेकी औकात रखते हो, बाकी हरेक दिल काबिल-ऐ-वफा नही होता..”
  • “हाथ की लकीरें भी कितनी अजीब हैं, हाथ के अन्दर हैं पर काबू से बाहर..”
  • “किसी ने धूल क्या झोंकी आखों में पहले से बेहतर दिखने लगा है.
  •  “न पूछो हालत मेरी रूसवाई के बाद, मंजिल खो गयी है मेरी, जुदाई के बाद, नजर को घेरती है हरपल घटा यादों की, गुमनाम हो गया हूँ गम-ए-तन्हाई के बाद .”
  •   “अपना होगा तो सता के मरहम देगा, जालिम होगा अपना बना के जख्म देगा, समय से पहले पकती नहीं फसल, अरे बहुत बरबादियां अभी मौसम देगा.”
  •  “चूम कर कफ़न में लिपटें मेरे चेहरे को,
  • उसने तड़प के कहा…
  • नए कपड़े क्या पहन लिए, हमें देखते
  • भी नही.”
  • “हज़ार गम थे मेरी ज़िंदगी अकेली थी,
  •          खुशी जहाँ की मेरे वास्ते एक पहेली थी,

  • वो आज भाग के निकलते है मेरे साए से,

  • मैने जिनके लिए गम की धूप झेली थी”

  •  

  •  “कितना समजाया इस दिल को की तू प्यार ना कर,
  • किसी के लिए ख़ुद को तू बेकरार ना कर
  • वो तेरा नही बन सकता ए मेरे प्यारे दोस्त
  • किसी और की अमानत का तू इंतज़ार ना कर..”
  •  “Raah takti ankhon ka intezar khatam ho gya, aaj mere dil ke andar pyar khatam ho gya, chhoti si ik duniya thi iss dil me khawabon ki, mere sath hi iss dil ka vo sansar khatam ho gya.”
  •  “जिन की क़ुरबत मे करार बहोत था
  • जिस को मिलना था उससे दुश्वार बहोत था
  • वो कभी मेरे हाथो की लकीरो मे नही था
  • उस शख्स से हमे प्यार बहोत था..”
  • “हमने कब माँगा है तुम से अपनी वफाओं का सिला;
  • बस दर्द देते रहा करो मोहब्बत भर्ती जाएगी।,
  • “पसंद करता हूँ हर हसीनो को,मगर दिल में बसने के लिए जगह नही,
  •           ठुकरा देते हैं बेगाने समझकर , उसकी होती कोई ठुकराने की वजह नही…”

  •  

  • “किसी आशिक़ ने क्या खूब कहा है.
  • खामोशी को इकतियार कर लेना.
  • अपने दिल को बेकरार कर लेना.
  • ज़िंदगी का असली दर्द लेना हो तो
  • किसी से बेपनाह प्यार कर लेना.”
  • “बिकता ह गम हसी क बाज़ार मे.
  •        लाखो दर्द छुपे होते ह एक छोटे से इनकार मे.
  • वो क्या समझ पाएँगे प्यार की कशिश को.
  • जिन्होने फ़र्क ही नहि समझा पसंद ओर प्यार मे.”

  • ‘जाने दुनिया मे ऐसा क्यू होता है..
  •          जो सब को ख़ुशी दे वही रोता है..
  • उमर भर जो साथ ना दे सके वही..
  • ज़िंदगी का पहला प्यार क्यू होता है.”

  • “वो देता है दर्द बस हमी को;
  • क्या समझेगा वो इन आँखों की नमी को;
  • ​चाहने वालों की भीड़ से घिरा है जो हर वक़्त;
  • वो महसूस ​क्या ​करेगा ​बस ​एक हमारी कमी को”
  • “अश्क़ आँखों से दिल से बददुआ निकली;
  • सितम किया याद जब कभी सितमगर का.”
  •  “हर कश्ती का किनारा नही होता,
  • जिसे करते हे प्यार वो हमारा नही होता.
  • रोता होगा सागर भी किसे के इंतज़ार में,
  • वरना सागर का पानी कभी खारा नही होता
  • Humaare Liye Unke Dil Me Chaahat Naa Thee,
  • Kisi Khushi Me Koi Daawat Naa Thee,
  • Humne Dil Unke Kadmo Pe Rakh Diya,
  • Par Unhe Zameen Dekhney Ki Aadat Naa Thee!
  • Teri gali se ham jo achanak gujar gaye,
  • Jo jakhm bhar chale the fir se ubhar gaye…
  • ajeeb lagta hai sham kabhi2 zindagi lagti hai bejaan kabhi2
  • samajh aaye to hame bhi batana kque karti hai yaddien paresa
  • kitni buri lagti hai zindagi jab
  • hum tanha mehsus karte hain
  • marne k baad milti hai chaar kandhe
  • aur jeete jee hum ek ke liye taraste hain..”

  • fariyaad kr rhi hai tarasti hui nigahe, dekhe huye kisi ko bohat din guzar gaye…”
  • Jub Kuch Sapne Adhure Reh Jate H,
  • Tab Dil K Drd Aansu Ban K Beh Jate H,
  • Jo Kehte H K Hum Sirf Ap K H,
  • Pata Nahi Wo Kaise Alvida Keh Jate H.
  • Hume Apni Mohbbat Par Itna To Yakeen Hai
  • Aeh”Dosto Woh Hume Thukra To Sakti Hai
  • Magar Bhula Nahi Sakti..”
  • Udasi per hi kayem hai nizam-e-zindagani bhi
  • bichar jata hai sahil se galey mil mil ke paani bhi….”

  • Wo Mayoosi ke Lamhon me zara bhi aHosla detaTo Hum Kagaz ki Kashti pe Samnder me Utar jate.”
  • Kasoor unka nahi jo dhokha dia unhone,
  • aadat to hame hi h dhokhe khane ki.
  • Tutega dil ek din, jante the hum.
  • Fir bhi bhul ki unko chahne ki.

No comments:

Post a Comment